Slider
ॐ पूर्णमदः पूर्णमिदं पूर्णात्पूर्णमुदच्यते | पूर्णस्य पूर्णमादाय पूर्णमेवा वशिष्यते ||

आत्मा और परमात्मा क्या है?

हिन्दू धर्म के आदि शंकराचार्य जी कहते हैं कि भगवान विष्णु क्षीरसागर में वास करते हैं तो ये क्षीर सागर है कहाँ? जबकि पृथ्वी पर सात महासागर ही हैं लेकिन इसमें से क्षीरसागर तो कोई नहीं है। पहले ये समझना जरूरी है कि क्षीरसागर का अर्थ क्या है? तो क्षीरसागर का अर्थ होता है दूध का समुद्र, क्षीर= दूध, सागर= समुद्र ।

Welcome to Tatwa Bodhani

ज्ञान मनुष्य का जन्मसिद्ध अधिकार है,ज्ञान के कारण ही
मनुष्य समस्त जीवों में श्रेष्ठ है। ज्ञान हमारी बुद्धि की सहायक है
हमारे पास ज्ञान जितना अधिक होगा हमारी बुद्धि भी उतनी ही अच्छी होगी।
ऐसे तो ज्ञान हमें पुस्तकों से मिल जाते हैं परन्तु पुस्तक में कुछ ज्ञान ऐसे भी होते है जो अलग अलग पुस्तक में अलग अलग प्रकार से व्यक्त होता है, कुछ ज्ञान कहानी के माध्यम से कहा गया है जिसमे गूढ़ ज्ञान छिपा होता है ।हमारा उद्देश्य है कि ऐसे समस्त ज्ञान को सरल भाषा में आपके समक्ष रखना जिससे आप तक समुचित ज्ञान पहुंच सके। आज के समाज में वेद के वास्तविक ज्ञान को तोड़ मड़ोर कर कहा जाता है। शास्त्रों में कहा गया है कि वेद मंत्र शूद्र के कान में नहीं पड़ना चाहिए, हमारा मानना है कि शूद्र शब्द का अर्थ कोई वर्ण या किसी समाज से नहीं है अपितु शूद्र का अर्थ मुर्ख से है कारण ऋचा का अक्षर और ज्ञान बहुत ही पवित्र माना गया है और मुर्ख ज्ञान की पवित्रता बनाये रखने में सक्षम नहीं होते वे उसे उपहास बनाकर अपवित्र करते हैं। तत्व ज्ञान समस्त ज्ञान से श्रेष्ठ माना गया है, कारण तत्व ज्ञान को ही दिव्य ज्ञान या शुक्ष्म ज्ञान कहते हैं, ज्ञान को चक्षु भी कहा गया है और इसी ज्ञान चक्षु के द्वारा भगवान का दर्शन होता है।read more...

Astrology
Stree
अब मैं आप सभी को परमात्मा के विषय मे बताना चाहता हूँ । इस दूधिया प्रकाश में निरंतर क्रिया होती है और उस क्रिया के परिणाम तीन गुणों के रूप में मिलते हैं जिसे सत्व गुण= ब्रह्मा, रज गुण = विष्णु और तमो गुण = शिव कहते हैं । ये तीनों गुण इस सृष्टि को संचालित करते हैं।
Bhut
ईश्वर का अर्थ लोग परमात्मा से भी लगाते हैं और भगवान से भी । मेरे कहने का अर्थ है कि ईश्वर में वे सभी आ जाते हैं जिन्हें हम पूजते हैं या महत्वपूर्ण मानते हैं जो हमारी जिंदगी को किसी न किसी रूप से प्रभावित करते हैं । ठीक वैसे ही जैसे डॉक्टर शब्द कहने से पुरुष, स्त्री, सहायक सभी प्रकार के चिकित्सक आ जाते हैं,

Product Available

ईश्वर का अर्थ लोग परमात्मा से भी लगाते हैं और भगवान से भी । मेरे कहने का अर्थ है कि ईश्वर में वे सभी आ जाते हैं जिन्हें हम पूजते हैं या महत्वपूर्ण मानते हैं जो हमारी जिंदगी को किसी न किसी रूप से प्रभावित करते हैं । ठीक वैसे ही जैसे डॉक्टर शब्द कहने से पुरुष, स्त्री, सहायक सभी प्रकार के चिकित्सक आ जाते हैं, phd की उपाधि वाले भी आ जाते हैं।

Teacher
SEQUIN NYC STELLINA CUFF BRACELET
$45.00
Product
SEQUIN NYC STELLINA CUFF BRACELET
$45.00
Teacher
SEQUIN NYC STELLINA CUFF BRACELET
$45.00
Teacher
SEQUIN NYC STELLINA CUFF BRACELET
$45.00
Teacher
SEQUIN NYC STELLINA CUFF BRACELET
$45.00
Teacher
SEQUIN NYC STELLINA CUFF BRACELET
$45.00
Youtube
Linkedin
Instagram
Pinterest